10 Most dangerous place on earth : History in Hindi


 हम में से हर कोई एक सुरक्षित जगह में रहना और जाना पसंद करता है, लेकिन विश्व में कुछ ऐसे भी स्थान हैं, जहां इंसान के जीवन के लिए बहुत अधिक खतरा है। इनमे से कुछ खतरनाक स्थानों में आज भी लोगों को जाने की मनाही है। इन जगहों में से कुछ स्थानों पर तो ऐसे खतरे हैं, कि स्थिति अगर थोड़ा सा भी बदल जाए तो लाखों लोग मौत के मुंह में जा सकते हैं। कुछ स्थान तो ऐसे हैं, यदि कोई मनुष्य वहां जाए तो उसके बचकर वापस आने की संभावना बहुत कम ही रहती है। आज हम आपको धरती के कुछ ऐसे ही खतरनाक स्थानों के बारे में बताएँगे।
खूनी पोखर – जापान (Bloody Pond – Japan) :-

यह जापान के सबसे प्रसिद्ध स्थानों में से एक है। इस पोखर में तैरना मना है क्योंकि इसक तापमान 194 फैरेनहाइट रहता है। झील में लोहे और नमक की मात्रा काफी होती है और इसका पानी खूनी लाल रंग का होता है। पानी की सतह से भाप वाष्पित होती रहती है। इसे देखकर ऐसा लगता है कि जैसे यह नर्क का द्वार हो।
किवु लेक (Lake Kivu) :

अफ्रीका महाद्वीप के डेमोक्रेटिक रिपब्लिक कांगो (Democratic Republic of the Congo) और रवांडा (Rwanda) की सीमा के बीच में यह झील स्थित है। इसके गहरे पानी के नीचे मीथेन गैस छिपी हुई है। अगर इस जहरीली गैस से बने मौत के बादल सतह के ऊपर आ जाए तो इस क्षेत्र में बसे 20 लाख लोगों की जान खतरे में पड़ सकती है।
माउंट मेरापी वोल्केनो (Mount Merapi Volcano) :
Mount Merapi Volcano, Hindi, History, Story, Information, Itihas, Janakari , Khanai, Dangerous, Deadly, Khatarnak,

माउंट मेरापी एक सक्रिय ज्वालामुखी है जो मध्य जावा और इंडोनेशिया के योग्याकार्ता की सीमा पर स्थित है। इंडोनेशिया का यह सबसे सक्रिय ज्वालामुखी है और 1548 से यह लगातार सक्रिय है। जब इसमें विस्फोट नहीं होता है, तब भी इससे बहुत मात्रा में धुंआ निकलता रहता है और यह आसमान में 2 मील की ऊंचाई तक दिखाई देता है। इसके आसपास 4 मील से भी कम दूरी में लगभग 200,000 लोग रहते हैं। यदि इस ज्वालामुखी ने कभी अचानक बड़ा रूप धारण कर लिया तो भारी तबाही मचा देगा।
राम्री द्वीप (Ramree Island) :

यह द्वीप बर्मा के नजदीक स्थित है। इस द्वीप को गिनीज ऑफ वल्र्ड रिकॉर्ड में इस बात के लिए जगह मिली है, कि यहां के खतरनाक जानवरों ने सबसे अधिक लोगों को नुकसान पहुंचाया है। इस द्वीप में खारे पानी कि कई झीलें हैं और ये खतरनाक मगरमच्छों (Crocodiles)  से भरी हुई हैं।
द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान जापानी सेना के 1000 जवान ब्रिटिश सैनिकों से बचने के लिए इस द्वीप में पहुंच गए, लेकिन उन में से अधिकतर इस आइलैंड पर रहने वाले खतरनाक मगरमच्छों (Crocodiles) का शिकार बन गए कहते है कि आइलैंड से केवल 20 सैनिक ही ज़िंदा वापस आये थे। रामरी आइलैंड के बारे में ज्यादा जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे।
मियाकेजीमा इजू आइलैंड – जापान  (Miyakejima Izu Island – Japan) :-

जापान में स्थित इस आइलैंड में न्यूक्लियर दुर्घटनाओं के अलावा यहां भूकंप की घटनाएं भी खूब होती है। यहां ओयामा ज्वालामुखी (Oyama Volcano) फूटता रहता है। इसके कारण लोग यहां स्वच्छ सांस भी नहीं ले सकता है। इस आइलैंड पर जिन्दा रहने के लिए हमेशा गैस मास्क लगा के रखना पड़ता है  क्योकि यहाँ के वातावरण में ज़हरीली गैसों कि मात्रा सामान्य से बहुत अधिक स्तर तक पहुच गयी है।  इस तरह इस द्वीप में एक नहीं बल्कि कई खतरे हैं। मियाकेजीमा इजू आइलैंड के बारे में अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे।
स्नेक आइलैंड – ब्राजील  (Snake Island – Brazil ) : –

इलहा डी क्विमाडा ग्रांड का निक नेम स्नेक आयलैंड भी है। यह ब्राजील के साओ पालो द्वीप का तट है। इसे गोल्डन लांसहेड सर्प की प्रजाति का घर कहा जाता है।  यहाँ पर इन सांपो कि संख्या इतनी अधिक है कि हर एक वर्ग मीटर में पांच सांप रहते है यानि कि आपके सिंगल बेड जितनी जगह में दस साँप और डबल बेड जितनी जगह में बीस सांप। इस सांप कि गिनती विशव के सबसे जहरीले सांपो में होती है। इसका अंदाजा आप इस बात से लगा सकते है इस सांप के काटने से आदमी 10  से 15 मिनट के अंदर मर जाता है। पुरे ब्राज़िल मे साँपो के काटने से होने वाली मौतों में से 90 प्रतिशत मौतों के लिए यही सांप जिम्मेदार है। वर्तमान में ब्राजील की नेवी ने लोगों के यहां घुसने पर प्रतिबंध लगा रखा है। स्नेक आइलैंड के बारे में ज्यादा जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे। 
ओकफेनोकी दलदल – जॉर्जिया  (Okefenokee Swamp – Georgia) :-

यह जॉर्जिया स्टेट में स्थित है। यहां हजारों साल से पांस नाम की घास हर जगह फैली हुई है। लोगों ने पहले जो मकान और रास्ते बनाए थे, उन्हें इस घास ने ढंक दिया है। यह एक परभक्षी घास है। यहां जहरीले मच्छर, कीड़े मकोड़े, जहरीले सांप, मेढ़क और हजारों मगरमच्छों का आतंक है। ये जीव यहां इंसान के लिए बेहद खतरनाक हैं।
एओकिगाहरा – जापान (Aokigahara – Japan) :-
जापान के माउंट फुजी की तलहटी में अओकीगाहारा एक प्राचीन भुतिहा जगह है। 60 साल पहले यह जगह आत्महत्या करने वालों के लिए पसंदीदा जगह बन गई, जब सीको मात्सुमोतो की किताब ब्लैक सी ऑफ ट्रीज प्रकाशित हुई थी। इस किताब के पात्र इस जंगल में सामूहिक रूप से आत्महत्या करते हैं। हर साल इस जंगल से 70 से 100 लोगों की डेड बॉडीज मिलती हैं। इसके अलावा इस जंगल मर्डरर और ऐसे लुटेरे मिलते हैं, जो आत्महत्या करने वाले लोगों की जेबों के पैसों पर हाथ साफ करते हैं।
सेबल आइलैंड – जहाजों का भक्षण करने वाला (Sable Island – The Devourer Of Ships) :-

कनाडा के हैलिफैक्स पार्ट के पास यह द्वीप धुंध में लगातार छिपा रहता है। इसे देखकर ऐसा लगता है कि जैसे यह शिकार की तलाश में हमेशा चौकन्ना बना रहता है। खाड़ी की गर्म हवाएं लेब्राडोर की ठंडी हवाएं यहां मिलती हैं। तेज तूफानी हवाओं और ऊंची लहरों के बीच यह द्वीप लगभग दिखाई नहीं देता है। इससे कई जहाज यहां दुर्घटनाग्रस्त हो जाते हैं। इसकी बालू मिट्टी का रंग समुद्र के पानी की तरह बदल जाता है। इसे दुनिया के सबसे खतरनाक स्थानों में से एक माना जाता है।
रॉयल पाथ – स्पेन (Royal Path – Spain)  : –

दुनिया की सबसे खतरनाक स्थानों में से एक है स्पेन का यह रॉयल पाथ। यह अलोरा नाम के एक गांव के पास जॉर्ज एल चोरो के बगल में बना हुआ है। यह खतरनाक रास्ता 300 से 900 फीट की उंचाई पर है और इसकी लंबाई 1.8 मीटर है और चौड़ाई मात्र 3 फीट। इसे पब्लिक के लिए बंद कर दिया गया है लेकिन पर्यटकों के बीच यह अभी भी रोमांच बना हुआ और यहां कुछ लोगों के गिरकर मरने की खबरें भी आती रहती हैं। 

Comments

Popular posts from this blog

सभी सुपर स्टारों ने क्या कहा श्रीदेवी की मौत पे।

हमारे शारीर में इनका क्या काम होता है।

क्या होगा अगर 1 रूपए 1$ डॉलर के बराबर हो जाये तो हिंदी में