मानुषी ने कहा था, मिस वर्ल्ड बनकर आऊंगी'

'मानुषी ने कहा था, मिस वर्ल्ड बनकर आऊंगी'

मानुषीइमेज कॉपीरइट
मिस वर्ल्ड का ख़िताब जीतने वाली मानुषी छिल्लर के नाना का दावा है कि इस प्रतियोगिता के लिए चीन रवाना होने के पहले ही उन्हें यकीन था कि वो 'ताज के साथ' ही लौटेंगी.
रोहतक में रहने वाले मानुषी के नाना चंद्र सिंह शेरावत ने बीबीसी संवाददाता वात्सल्य राय को बताया, "उनकी मेहनत पर मुझ घमंड (गर्व) है. (चीन जाने के पहले) वो बड़ी कॉन्फिडेंट थी कि नानाजी मैं ताज लेकर आऊंगी. मिस वर्ल्ड बनकर आऊंगी."
मिस वर्ल्ड के नतीजे के ऐलान के क़रीब साढ़े चार घंटे बाद बीबीसी से बात कर रहे चंद्र सिंह की आवाज़ से ही खुशी छलक रही थी.
शाम सात बजे के बाद से उनका मोबाइल फ़ोन लगातार व्यस्त था. इस बीच वो मानुषी के माता-पिता यानी अपनी बेटी और दामाद से बात कर चुके थे.
चंद्र सिंह ने बताया, "मेरे दामाद अपनी बेटी का हौसला बढ़ाने चीन ही गए हुए हैं."
मानुषीइमेज कॉपीरइट
तीन भाई-बहनों में दूसरे नंबर पर आने वाली मानुषी के नाना एक सांस में उनकी कई खूबियां गिना देते हैं.
मानुषी की कामयाबी का राज़ बताते हुए वो कहते हैं, "वो जो भी काम करती हैं दिल लगाकर करती हैं. चाहे वो सफाई का काम हो, सजावट का काम हो या फिर पढ़ाई का. पढ़ाई में भी वो टॉप रहती हैं. मॉडलिंग में भी टॉप रहती है. उसे गॉड गिफ्ट है जो भी वो करेगी दिल से करेगी. वो मेडिकल में सेकंड ईयर में पढ़ाई करते हुए मिस इंडिया में शामिल हुई और मिस इंडिया बनी. अब मिस वर्ल्ड आपके सामने है ही."
मानुषी छिल्लर के नाना चौधरी चंद्र छिल्लर और नानी सावित्रीइमेज कॉपीरइट
Image captionमानुषी छिल्लर के नाना चौधरी चंद्र छिल्लर और नानी सावित्री मिठाई खिलाते हुए
चंद्र सिंह के मुताबिक मानुषी ने मिस इंडिया का ख़िताब जीतने के बाद ही मिस वर्ल्ड मुक़ाबले की तैयारी शुरू कर दी थी और करीब 25 दिन पहले इसके लिए चीन गईं.
मानुषीइमेज कॉपी
मानुषी की कामयाबी पर वो कहते हैं, "बहुत खुशी है कि हमारी नन्ही सी बच्ची ने इतनी तरक्की की. हमारी इतनी इज़्ज़त बढ़ाई है. पहले राज्य का नाम ऊंचा किया. अब दुनिया की सबसे आला स्टेज पर जाकर भारत का नाम रोशन किया है, इसका हमें गर्व है."
मानुषी हरियाणा से हैं. ये राज्य पुरुषों के मुक़ाबले महिलाओं की कम संख्या के लिए ख़बरों में रहता है. ऐसे में हरियाणा से पहले साक्षी मलिक का ओलंपिक पदक जीतना और अब मानुषी का मिस वर्ल्ड बनना क्या तस्वीर बदलने का संकेत है?
इस सवाल पर चंद्र सिंह कहते हैं, "जागृति तो आती ही है. मैंने ये महसूस किया है कि हमारे हरियाणा के अंदर हमारी बच्चियां एक से एक होनहार निकल रही हैं. मतलब वो बड़े से बड़े पायदान छूना चाहती हैं. "
चंद्र सिंह कहते हैं कि फिलहाल पूरा हरियाणा मानुषी की जीत का जश्न मना रहा है और ये सिलसिला अभी जारी रहेगा.

Comments

Popular posts from this blog

सभी सुपर स्टारों ने क्या कहा श्रीदेवी की मौत पे।

हमारे शारीर में इनका क्या काम होता है।

क्या होगा अगर 1 रूपए 1$ डॉलर के बराबर हो जाये तो हिंदी में