स्पेस से जुड़े मिथ्स एंड फैक्ट्स

Amezing fact about space स्पेस से जुड़े मिथ्स एंड फैक्ट्स


स्पेस का रहस्य सुलझाना काफी मुश्किल है। बचपन से ही इससे जुड़ी कई बातें हम पढ़ते-सुनते आए हैं। लेकिन असलियत क्या है, ये कोई नहीं जानता। इस वजह से लोगों को स्पेस से जुड़ी कई तरह की गलतफहमी हो जाती है। आज हम आपको बताने जा रहे हैं स्पेस से जुड़ी ऐसी ही गलतफहमियां और उसके पीछे का सच।

मर्करी है सबसे गर्म प्लेनेट
लोगों को ऐसा लगता है कि जो भी ग्रह सूरज के सबसे नजदीक होता है, वही सबसे गर्म है। लेकिन सच ये नहीं है। वैसे तो सूरज के सबसे नजदीक मर्करी प्लेनेट है लेकिन उससे ज्यादा गर्म ग्रह वीनस है। दिन के समय में जहां मर्करी का टेम्प्रेचर 420 डिग्री सेंटीग्रेड तक होता है वहीं वीनस का टेम्प्रेचर 462 डिग्री सेंटीग्रेड तक पहुंच जाता है।


सूरज का रंग पीला है
पृथ्वी से देखने पर ऐसा लगता है कि सूरज का रंग पीला या नारंगी है। लेकिन असल में सूरज का रंग सफेद है। दरअसल, टेम्पेरेचर की वजह से पृथ्वी से सूरज का रंग नारंगी दिखता है।
चांद के दूसरे साइड रहता है अंधेरा
लोगों को ऐसा लगता है कि चांद के दूसरे तरफ अंधेरा रहता है। लेकिन असल में ऐसा नहीं है। दरअसल, पृथ्वी से हम चांद का सिर्फ एक ही हिस्सा देख पाते हैं। साथ ही दोनों एक ही दिशा में घूमते है, इस वजह से भी हमें चांद का एक ही हिस्सा दिखाई देता है। सूरज की रौशनी चांद के हर तरफ मौजूद है, लेकिन चूंकि हमें सिर्फ एक ही तरफ का हिस्सा दिखाई देता है, इसलिए हम ऐसा मान लेते हैं कि चांद के दूसरे तरफ अंधेरा होता है।
सूरज का रंग पीला है
पृथ्वी से देखने पर ऐसा लगता है कि सूरज का रंग पीला या नारंगी है। लेकिन असल में सूरज का रंग सफेद है। दरअसल, टेम्पेरेचर की वजह से पृथ्वी से सूरज का रंग नारंगी दिखता है।
चांद के दूसरे साइड रहता है अंधेरा
लोगों को ऐसा लगता है कि चांद के दूसरे तरफ अंधेरा रहता है। लेकिन असल में ऐसा नहीं है। दरअसल, पृथ्वी से हम चांद का सिर्फ एक ही हिस्सा देख पाते हैं। साथ ही दोनों एक ही दिशा में घूमते है, इस वजह से भी हमें चांद का एक ही हिस्सा दिखाई देता है। सूरज की रौशनी चांद के हर तरफ मौजूद है, लेकिन चूंकि हमें सिर्फ एक ही तरफ का हिस्सा दिखाई देता है, इसलिए हम ऐसा मान लेते हैं कि चांद के दूसरे तरफ अंधेरा होता है।
पृथ्वी गोल है
आज तक हमें ऐसा मालूम था कि पृथ्वी फ्लैट या चौकौर नहीं है। पृथ्वी गोल है। लेकिन असलियत में पृथ्वी के पोल्स के पास शेप थोड़ा चिपटा है। असलियत में पृथ्वी का शेप आलू की तरह है।
गर्मियों में सूरज से नजदीक होती है पृथ्वी
लोगों में आम धारण है कि गर्मियों के मौसम में पृथ्वी सूरज से काफी नजदीक रहता है। इस वजह से पृथ्वी पर काफी गर्मी रहती है। दरअसल, पृथ्वी का जो हिस्सा सूरज की तरफ रहता है, वहां गर्मी रहती है। वहीं दूसरी तरफ ठंड का मौसम रहता है। पृथ्वी एक ही ऑर्बिट में घुमती है।
वीनस पर भी मौजूद है लाइफ
वीनस को पृथ्वी की जुडवा बहन कहा जाता है। लोग ऐसा मानते हैं कि वीनस और पृथ्वी एक जैसे ही हैं इसलिए उसपर भी जिन्दगी मौजूद है। लेकिन असलियत में वीनस पर इंसान का रहना असंभव है।
सूरज आग का गोला है
सूरज आग का गोला नहीं है। सूरज पर न्यूक्लियर रिएक्शन की वजह से इसमें गर्मी पैदा होता है। जिसके कारण सूरज चमकता रहता है।


Comments

Popular posts from this blog

सभी सुपर स्टारों ने क्या कहा श्रीदेवी की मौत पे।

हमारे शारीर में इनका क्या काम होता है।

क्या होगा अगर 1 रूपए 1$ डॉलर के बराबर हो जाये तो हिंदी में